शिक्षा पद्धति में सुधार के बिना छात्रों की तकदीर नहीं बदल सकती : कुशवाहा

मुंगेर. केन्द्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने आज कहा कि शिक्षा पद्धति में सुधार के बिना गरीब छात्रों की तकदीर नहीं बदल सकती। श्री कुशवाहा ने यहां के नगर भवन में पार्टी की ओर से ‘शिक्षा में सुधार’ विषय पर आयोजित सम्मेलन में कहा कि बिहार में शिक्षा पद्धति में सुधार की जरुरत है। उन्होंने सरकारी प्राथमिक और मध्य विद्यालयों में मिड डे मील योजना के तहत खिचड़ी बनाने के काम को अविलंब दूसरी एजेंसी को सुपुर्द करने और शिक्षकों से केवल पढ़ाई का काम लेने की वकालत की। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि खिचड़ी बनाने के काम से शिक्षकों को जोड़ने के कारण प्राथमिक और मध्य विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता प्रभावित हो रही है। उन्होंने सरकारी विद्यालयों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की जरूरत बताई  और कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी सार्वजनिक रूप से सरकारी विद्यालयों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की वकालत कर  चुके  हैं।






Related News

  • आय से अधिक संपत्ति मामले में छपरा के पूर्व डीएम दीपक आनंद के यहां छापे
  • बिहार में एक मुस्लिम मंत्री से मांगी गई चौथी बार रंगदारी
  • जानिए जेल में क्या कर रहे हैं लालू प्रसाद, और घर में क्या कर रही राबडी देवी
  • नये साल में बिहार के मास्टरों की छुट्टियों पर पांच दिन की कटौती
  • शर्मनाक! शव को घसीट कर ठेले पर रखा फिर 22 किमी दूर गंगा में फेंका
  • महिला क्रिकेट में बिहार ने यूपी को छह विकेट से हराया
  • …और लालू के गांव फुलवरिया में रिहाई के लिए होता रहा हवन
  • मगध यूनिवर्सिटी के 21 प्रिंसिपलों की नियुक्ति को हाईकोर्ट ने किया कैंसिल
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com