मडुआ, नोनी, और जिउतिया !

मडुआ, नोनी, और जिउतिया !
Brajesh Kumar /////////////////////////////////////////////

जिउतिया पर्व में प्रयोग होंनेवाले मडुआ और नोनी के बारे में जानिये कितना लाभकारी है इसका सेवन !

“मडुआ” हमारे जीवन में बहुत ही लाभदायक पोषक तत्व है । मडुआ में कैल्शियम, विटामिन्स, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट सरीखे तमाम जरूरी पोषक तत्व होते हैं। मडुआ में काफी मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है। इसके अलावा फाइबर भी भरपूर मात्रा में होने से ये शुगर और वजन कम करने में भी यह सहायक है !

नोनी के साग में कैल्शियम व आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. इसके ताजे पत्तों का रस पीने से पेट के कीड़े मरते हैं तथा सूखी खासी में आराम मिलता है। आखों की जलन, मसूढ़ों की जलन, मुंह का कड़वापन, ताजे पत्ते खाने या पकाकर खाने से लाभ होता है !

हमारे मित्र Sandeep Singh अपने 9 महीने के बच्चे को रोजाना मडुआ का हलवा खिलाते है ।






Related News

  • बिहार का एक गांव जहां एक भी व्यक्ति साक्षर नहीं, रंग से करते रुपये की पहचान
  • बौद्ध संन्यासियों को भंते क्यों कहते है?
  • बिहार के एक मंदिर में बलि के बाद जिंदा हो जाता है बकरा!
  • बिहार में गाजे-बाजे के साथ निकली सांड की शव-यात्रा
  • मडुआ, नोनी, और जिउतिया !
  • मुहर्रम में भांजते थे बाबा धाम की लाठी
  • इमाम हुसैन की शहादत, सिर्फ मुसलमानों के लिए ही नहीं, पूरी मानवता के लिए हैं प्रेरणा का स्रोत
  • हमरा मालिक के बोलवा दी ए एमपी साहेब, राउर जीनगी भर एहसान ना भूलेम !
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com