लालू की नींद न हो खराब, इसलिए कुत्तों को भगाने के लिए गार्ड की ड्यूटी

रांची। चारा घोटाले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव के पेइंग वार्ड का फैसला अब जेल प्रशासन लेगा। रिम्स प्रबंधन ने लालू की इस मांग को जेल प्रशासन को भेज दिया है और उनके दिशानिर्देश का इंतजार कर रहा है। अगर जेल प्रशासन इसकी अनुमति दे देता है, तो लालू को पेइंग वार्ड में एक कमरा मिल जाएगा। वर्तमान में एक हजार रुपये प्रतिदिन पेइंग वार्ड का शुल्क है। वार्ड का कमरा पूरी तरह से वातानुकूलित है। पेइंग वार्ड में इलाज करने के लिए वार्ड के ही चिकित्सक को जाना पड़ता है। वहीं, रिम्स परिसर में कुत्तों के भौंके जाने की शिकायत पर रिम्स प्रबंधन ने कदम उठाते हुए, सुरक्षा गार्ड की ड्यूटी कुत्तों को भगाए जाने को लेकर लगाई है, ताकि लालू प्रसाद के नींद में कोई खलल न पड़े।
दूसरी तरफ, लालू के शुगर लेवल में गिरावट दर्ज हुई है। लेकिन अब भी ब्लड शुगर अधिक है। कल तक फास्टिंग में ब्लड शुगर 189 थी, जो घटकर 154 हो गई है। लालू का ब्लड प्रेशर सामान्य है। लेकिन, ब्लड में संक्रमण अब भी कम नहीं हुआ है। इसे लेकर दवाइयां चिकित्सकों द्वारा दी जा रही है, ताकि किसी भी तरह की समस्या न हो। साथ ही, ब्लड शुगर को नियंत्रण करने के लिए लालू को इंसुलिन दिया जा रहा है। कार्डियोलॉजिस्ट विभाग के चिकित्सक ने उनका इसीजी और इको भी किया। इनपुट साभार जागरण






Related News

  • क्या खेसारी खिसकाना चाहता है बाहुबली प्रभुनाथ सिंह की राजनीतिक जमीन!
  • तेजप्रताप-एेश्वर्या की शादी में टूटा था मंच-टूटे थे बर्तन, अब टूट की कगार पर रिश्ता
  • बिहारी लेखक को अब तक का सबसे बड़ा साहित्यिक सम्मान
  • बीच राह में फंसी हथुआ-भटनी रेलखंड परियोजना
  • बिहार के कडक आईएएस अफसर के के पाठक पर कोर्ट का डंडा
  • बेगूसराय में एससी एसटी कानून के खिलाफत में आया सवर्ण समाज
  • बिहार में मुखिया, उप मुखिया अब मंत्री केआदेश पर ही होंगे बर्खास्त
  • बिहार में बन रहा है 1161 करोड़ का खूबसूरत पुल
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com