गोपालगंज में काला पट्टी बांधकर कार्य बहिष्कार करेंगे शिक्षक, छह महीने से बकाया बेतन का मुंह ताक रहे हैं नियोजित शिक्षक

बिहार कथा.गोपालगंज. नियोजित शिक्षकों के वेतन के भुगतान नहीं होने पर आक्रोशित शिक्षकों को लेकर बिहार प्रदेश प्रारंभिक माध्यमिक शिक्षक संघ तथा परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ की संयुक्त बैठक शिक्षा विभाग परिसर में संपन्न हुई । बैठक को संबोधित करते हुए शिक्षक नेताओं ने कहा कि शिक्षा विभाग द्वारा जिले को आवंटित राशि भेजे जाने के बाद भी जिले के नियोजित शिक्षकों का बकाया वेतन भुगतान नहीं किया जा रहा है । शिक्षक के भुखमरी से मौत पर ही गोपालगंज शिक्षा विभाग जागेगा ऐसा प्रतीत होता है। शिक्षक संघ के नेताओं ने अपने संबोधन में कहा कि वेतन भुगतान को छोड़कर शिक्षा विभाग सभी कार्यों को करने में कोई परेशानी नहीं होती है। डीपीओ द्वारा बिना बैठक बुलाए एक संघ के द्वारा प्रस्तावित अवकाश तालिका को स्वीकृति प्रदान कर दिया गया है जो शिक्षक हित में नहीं है। डीपीओ द्वारा सभी संघो की संयुक्त बैठक बुलाकर अवकाश तालिका पर चर्चा करते हुए स्वीकृति प्रदान की जाए ताकि सभी प्रकार के शिक्षकों का अवकाश तालिका का पूरा लाभ मिल सके एवं जिला स्तर पर किसी प्रकार का विवाद उत्पन्न ना हो। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि शिक्षा विभाग द्वारा 20 दिसंबर तक नियोजित शिक्षकों के बकाया वेतन भुगतान नहीं करता है तो 21 दिसंबर को काली पट्टी बांधकर कार्य बहिष्कार करने का निर्णय लिया गया। बैठक को शिक्षक नेताओ नगनारायण सिंह , रणदीप सिंह, संतोष कुमार सिंह, अमरेंद्र प्रधान , अमरेंद्र साह, नीरज पांडेय, विनय कुमार, जितेंद्र साह, राजन पांडेय, सुमन कुमारी , बंधना शर्मा , आरती कुमारी आदि ने संबोधित किया।






Related News

  • सुधर जाओ नही तो “पिंक पैट्रोलिंग” पुलिस सुधार देगी
  • बिहार : एम्स में डॉक्टर के बेटे ने खुद को गोली मारी
  • शराब के बाद अब बिहारमें खैनी पर बैन की तैयारी, जानिए क्या है पूरी खबर!
  • मीरा देवी बनी आंगनबाड़ी संघ की कार्यकारी अध्यक्ष, प्रखंड अध्यक्ष मनोनीत
  • बिहार के नेताओं और अफसरों के घर भेजी जाती थीं सुधारगृह की लड़कियां!
  • बिहार में भारत का तीसरा गेट, गेटवे ऑफ बिहार
  • मीरंगज में खुले इंजीनियरिंग कॉलेज
  • गोपालगंज : इंजीनियरिंग कॉलेज खोलने के नाम पर राजनीतिक
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com