सेहत का राज है चुकंदर

संजय अभय

बड़े बुजुर्ग कहते हैं कि सर्दियों का मौसम शरीर बनाने का मौसम होता है क्योंकि इस मौसम में ढेर सारे पौष्टिक फल और सब्जियां आ जाते हैं। इनमें से ही एक सब्जी है चुकंदर जो कंद वाली सब्जियों में सबसे गुणकारी माना जाता है। चुकंदर को लोग कई तरह से इस्तेमाल करते हैं। इसे सलाद में कच्चा भी खाया जा सकता है और सब्जियों में पकाकर भी लोग खाते हैं। इसके अलावा चुकंदर के जूस को काफी गुणकारी माना जाता है और ये कई गंभीर रोगों से लड़ने की क्षमता रखता है। गहरे लाल रंग की इस सब्जी का रस खून के लिए बहुत फायदेमंद है क्योंकि ये खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाता है। चुकंदर में ढेर सारे विटामिन और खनिज होते हैं। ये प्राकृतिक शुगर का स्रोत है और इसमें आयरन, सोडियम, पोटैशियम, फॉस्फोरस आदि पाए जाते हैं। इसलिए सर्दियों में इसका सेवन शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है। आइये चुकंदर के गुणों के बारे में और जानकारी हासिल करते हैं।कोलेस्‍ट्रॉल घटाएं
चुकंदर में घुलनशील फाइबर होता है, जो दिल की सेहत के लिए हानिकारक कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। इसके साथ ही इसमें केरोटेनोऑयड और फ्लेवोनोयड्स होते हैं, जो बैड कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं। इसके साथ ये तत्‍व धमनियों में रक्‍त प्रवाह को भी सुचारू बनाये रखने में सहायता करते हैं।

ब्‍लड शुगर को काबू करे
चुकंदर पाचन क्रिया के दौरान काफी धीमे शुगर में परिवर्तित होता है। इससे यह रक्‍त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करने में मदद करता है। चुकंदर का नियमित सेवन करने से आपको डायबिटीज होने का खतरा कम हो जाता है। चुकंदर का जूस अकार्बनिक कैल्शियम को संग्रहित करने का सर्वश्रेष्ठ माध्यम है। इस कारण यह उच्च रक्तचाप, दिल की बीमारियों और पांव की नसों के लिए उपयोगी होता है। किडनी और पित्ताशय विकार में चुकंदर के रस में गाजर और खीरे के जूस को मिलाकर पीना उपयोगी होता है।

खून बढ़ाएं
चुकंदर में आयरन काफी मात्रा में होता ह। यह लाल रक्त कोशिकाओं को सक्रिय और उनकी पुर्नरचना करने में काफी महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है। अनीमिया के मरीजों के लिए चुकंदर का जूस विशेष रूप से लाभकारी होता है। एनीमिया के रोगियों को चुकंदर का जूस पीने की सलाह दी जाती है। इसके सेवन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

हड्डियां रखे मजबूत
चुकंदर में सिलिका मिनरल होता है। यह शरीर को कैल्शियम इस्‍तेमाल करने में मदद करता है। कैल्शियम हमारी हड्डियों की सेहत के लिए बहुत जरूरी होता है। इससे हमारी हड्डियां मजबूत रहती हैं और ऑस्‍ट‍िओपोरोसिस का खतरा कम हो जाता है।

पाचन क्रिया सुधारे
चुकंदर का जूस पीलिया, हेपेटाइटिस, मतली और उल्टी के उपचार में मदद करता है। चुकंदर के जूस में एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर इन बीमारियों में तरल भोजन के रूप में दिया जा सकता है। गैस्ट्रिक अल्सर को दूर करने के लिए सुबह नाश्ते से पहले एक गिलास चुकंदर के जूस में एक चम्मच शहद को मिलाकर पियें। आपको जरूर लाभ होगा।

कब्ज और बवासीर से दिलाये राहत
चुकंदर के नियमित सेवन करने से कब्ज जैसी समस्‍या दूर रहती है। बवासीर के रोगियों के लिए भी चुकंदर को बहुत फायदेमंद माना जाता है। रात में सोने से पहले एक गिलास या आधा गिलास जूस दवा के तौर पर पीना फायदेमंद होता है।

त्वचा के लिए फायदेमंद
सफेद चुकंदर को पानी में उबाल कर छान लें। यह पानी फोड़े, जलन और मुहांसों के लिए काफी उपयोगी होता है। खसरा और बुखार में भी त्वचा को साफ करने में इसका उपयोग किया जा सकता है।

रूसी भगाएं
यदि आपके बालों की खूबसूरती को रूसी की नजर लग गयी है, तो चुकंदर का सहारा लिया जा सकता है। चुकंदर के काढ़े में थोड़ा सा सिरका मिलाकर सिर में लगाने से रूसी दूर हो जाती है। या सिर पर चुकंदर के पानी में अदरक के टुकड़े को भिगोकर रात में मसाज करें। सुबह बालों को धो लें, इससे भी आपके बाल खिले-खिले हो जाएंगे।

चुकंदर का जूस सेहत भरपूर
चुकंदर के जूस में सोडियम, पोटैशियम, फॉस्फोरस, कैल्शियम, सल्फर, क्लोरीन, आयोडीन, आयरन, विटामिन बी1, बी2 और विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है। यह जूस हमारी पोषण संबंधी कई समस्‍याओं को दूर करने में मदद करता है। इतना ही नहीं इसमें कैलोरी काफी कम होती है, जो वजन कम करने में भी मदद करती है।






Related News

  • कुशीनगर बौद्ध उत्सव में दिखा हथुआ महाराज का जलवा
  • बिहार: थाने में अनोखी शादी, पुलिसवाले बाराती,राह चलती महिलाओं ने मंगलगीत गाया, राहगीरों ने दिया आशीर्वाद
  • जानिये क्या हुआ जब हथुवा में जब हेलिकॉप्टर से पहुंचा दुल्हा
  • बिहार की इस मुस्लिम डीएम को हर कोई कर रहा सलाम
  • देश का पहला किडनी डायलिसिस हुआ था हथुआ महाराज गोपेश्वर साही का
  • जय बिहार : एक विवाह ऐसा भी : समाज को संदेश देने वाली अनोखी शादी
  • सारण की बेटी ने शत्ताक्षी ने जीता मिस इंडिया 2nd रनरअप का खिताब
  • गोपालगंज की कुमारी दुर्गा शक्ति बनी डी. एस. पी.
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com