एनडीए की डिनर डिप्लोमेसी को उपेंद्र कुशवाहा ने किया ना, भाजपा भी नहीं दे रही भाव!

बिहार कथा न्यूज नेटवर्क. पटना. 2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर सियासी गुणा गणित का दौर तेज हो चुका हैं. जहां एक ओर नीतीश कुमार ने सीटों के बंटवारे को लेकर पहले ही अपना रुख कडा करते हुए बिहार को विशेष राज्य के दर्जे पर नोटबंदी को नाकारात्मक टिप्पणी से भाजपा को कटघरे में खडा कर दिया है, वहीं अब एनडीए के एक और घटक दल ने एक स्टैंड लिया है. गठबंधन में आ रही तनाव व कडवाहट को खत्म करने के लिए एनडीए की ओर से आयोजित डिनर पार्टी में जाने से रालोसपा ने ना कर दिया. मिली जानकारी के अनुसार भोज में शामिल होने के लिए रालोसपा को निमंत्रण मिला था लेकिन रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय को फोन कर भोज में शामिल होने से मना कर दिया. इससे पहले भी उपेंद्र कुशवाहा केंद्र सरकार के खिलाफ अपनी आवाज मुखर कर चुके हैं.

पटना में एनडीए के की आरे आयोजित डिनर पार्टी में शामिल होने से पहले उपेंद्र कुशवाहा यह चाहते था कि उनके भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व बातचीत करे. वहीं भाजपा के राष्र्टीय अध्यक्ष अमित शाह एनडीए के अन्य घटक लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात कर चुके हैं, लेकिन उपेंद्र कुशवाहा से कोई मुलाकात नहीं हुई है. इससे स्पष्ट है कि भाजपा उपेंद्र कुशवाहा को भाव देने के मूड में नहीं है और इस बात को उपेंद्र कुशवाहा भांप कर पहले ही अपनी राजनीतिक साख बचाए रखने की जुगत में हैं.






Related News

  • एनडीए की डिनर डिप्लोमेसी को उपेंद्र कुशवाहा ने किया ना, भाजपा भी नहीं दे रही भाव!
  • बिहार सरकार ने ‘चपरासी’ शब्द पर गलाया बैन, गु्रप ‘डी’ के पद खत्म
  • झारखंड विधानसभा 2005 में उड़ा था लोकतंत्र का मजाक
  • कर्नाटक का असर बिहार की राजनीति पर, कर्नाटक की तर्ज पर बिहार में आरजेडी, गोवा में कांग्रेस सरकार बनाने का पेश करेगी दावा
  • नीतीश कुमार का दांव ही निर्णायक है
  • गोपालगंज के जनक राम ने भभुआ में ब्राह्मणों को शर्मशार होने से बचाया!
  • राजद में मनोज झा के बहाने नया राजनीतिक प्रयोग
  • गोपालगंज जिला परिषद के अध्यक्ष मुकेश पाण्डेय से बेवाक बातचीत
  • Leave a Reply

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com