अखिलेश-डिंपल ने दिया तेज को आशीर्वाद, जानिए कौन-कौन बनेंगे खास बराती

पटना। राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव और पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा प्रसाद राय की पोती व पूर्व मंत्री चन्द्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या की आज शादी है। इस शादी में शामिल होने के लिए देश के बड़े-बड़े राजनेता पटना पहुंच रहे हैं। दोपहर बाद उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनकी पत्नी डिंपल यादव पटना पहुंचीं। पटना पहुंचे अखिलेश यादव ने मीडिया से बातचीत में कहा कि मैं पीएम नहीं बना सकता, देश की जनता जिसको चाहेगी उसको पीएम बनाएगी। मेरा पहला लक्ष्य यूपी में भाजपा को रोकना है। लालू परिवार से मुलाकात के बाद अखिलेश यादव वापस लखनऊ लौट गए।
शरद यादव आरके सिन्हा भी पहुंचे लालू आवास
तेजप्रताप की शादी में शामिल होने पटना पहुंचे शरद यादव ने कहा कि आमंत्रण मिला है तो कई पार्टी के नेता शादी में शरीक होने आ रहे हैं। वहीं इस विवाह समारोह में होंगे शामिल होने केंद्रीय मंत्री आर के सिंह भी पटना पहुंच गए हैं। तेजप्रताप की शादी में शामिल होने एनसीपी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल तथा रामजेठ मलानी भी लालू आवास पहुंच गए हैं। जहां एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल पटना पहुंचे हैं। इनके अलावा रालोद नेता चौधरी अजित सिंह और सपा के प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र प्रसाद यादव भी शादी में शामिल होने पहुंचे। इसके साथ ही देश-प्रदेश के कई बड़े नेताओं का पटना पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है।
शत्रुघ्न सिन्हा भी पहुंचे
सिने अभिनेता शत्रुघन सिन्हा भी पटना पहुुंच गए हैं। उन्होंने कहा कि डंके की चोट पर मित्र लालू प्रसाद के बेटे तेजप्रताप की शादी समारोह में शामिल होने के लिए आये है। उन्होंने कहा कि इसे पारिवारिक मित्र, अभिभावक या जिस रूप में देखना चाहे देख सकते है। लालू जी से हमारा संबंध बहुत पुराना है, 1970 से ही हम मित्र है।
दिग्विजय सिंह भी हो रहे तेजप्रताप की शादी में शामिल
कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और मध्‍य प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्विजय सिंह भी लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप की शादी में शामिल होने पटना पहुंचे। उन्‍होंने कहा कि लालू यादव फिलहाल कई तरह की मुसीबतों से जूझ रहे हैं। मैं आज उनके बेटे और बहू को आशीर्वाद देने आया हूं। मैं हमेशा लालू परिवार के साथ हूं।






Related News

  • बालू के बडे करोबारी ने तेज प्रताप की वियाह में शान बढाने के लिए दियरा से भिजवाये घोडे
  • तेजप्रताप के हल्दी की रस्म में शामिल हुआ हथुआ राज परिवार, लालू ने कहा “मिलो हमारे राजा से “
  • मैथिली को झा झा एक्सप्रेस कहिये …
  • टूट रहा सिमुलतला को नेतरहाट बनाने का सपना
  • फर्श से अर्श तक पहुंचने वाले शेर शाह और हेमू में समानता
  • अकबरनामा लिखने वाला अबुल फज़ल क्या हिन्दू था ?
  • सासाराम का वह अदना रौनियार जो बदल रहा था भारत की तकदीर लेकिन….
  • अद्भुत और अविश्वसनीय मनु स्मृति :सभ्यता के प्रारंभिक दौर में ही किया गया एक सुनियोजित षड्यंत्र
  • Leave a Reply

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com