*अपनी मांगों को लेकर संसद भवन का घेराव करेंगे लाखों शिक्षक: भारती*

*17 नवम्बर को बिहार से हजारों शिक्षक पहुँचेंगे नई दिल्ली*
पटना 18 सितंबर।
————————
समान काम का समान वेतन , पूर्ण वेतनमान सहित कई प्रमुख माँगो को लेकर देश भर से 17 नवम्बर को लाखों शिक्षक संसद भवन का घेराव करेंगें। 17 नवम्बर को बिहार से हजारों शिक्षक पहुँचेंगे नईदिल्ली। उक्त कार्यक्रम की तैयारी को लेकर *बिहार प्रदेश प्रारंभिक माध्यमिक शिक्षक संघ* के प्रदेश पदाधिकारी की बैठक प्रदेश कार्यालय में सम्पन्न हुई।
प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक को सम्बोधित करते हुए *प्रदेश अध्यक्ष राकेश कुमार भारती* ने कहा कि केंद्र सरकार नीति आयोग के माध्यम से नियोजित शिक्षकों के भविष्य के साथ खिलबाड़ करने का प्रयास कर रही है। संघ उनके मंसूबों को पूरा नही होने देंगी।
श्री भारती ने कहा कि बिहार सरकार ने नियोजित शिक्षकों को सातवें वेतन के लाभ देने की घोषणा कर दी पर अभी तक बिहार सरकार की शिक्षा विभाग द्वारा न ही किसी प्रकार का दिशा निर्देश जारी किया है और न ही साफ्टवेयर। सातवें वेतन के लाभ देने की क्या प्रक्रिया हो इसको लेकर एक कार्यशाला आयोजित कर पदाधिकारियों को प्रशिक्षित किया जाना चाहिए। शिक्षा विभाग के पदाधिकारी अपनी समझ के अनुसार सातवें वेतन को प्रतिदिन नए नए आदेश जारी किया जा रहा है। जिस कारण नियोजित शिक्षकों का मानसिक तथा आर्थिक शोषण किया जा रहा है।
बैठक में अपने संबोधन में प्रदेश अध्यक्ष श्री भारती ने कहा कि सातवें वेतनमान के निर्धारण हेतु अबिलम्ब साफ्ट। वेयर जारी करे।
बैठक की अध्यक्षता राकेश भारती ,मंच संचालन अश्विनी कुमार पाठक तथा धन्यवाद रंजन आर्य ने किया।
बैठक को डॉ अभिषेक पांडेय , प्रशांत कुमार यादव , संतोष घायल , पवन कुमार , सुनील कुमार, विनय कुमार , मुरारी प्रसाद , सुमन सोनी सीमा कुमारी, सहित कई शिक्षक नेताओं ने संबोधित किया।






Related News

  • मुकेश पान्डेय चाहते हैं हथुआ के लड़के भी आईपीएल खेलने जाएं
  • Bihar के Hathua में एक ऐसा महल जहाँ आज भी सजी है राजा की शाही सभा
  • हथुआ का गोपालमंदिर : बेल्जियम के शीशा से सजा को गर्भगृह, देखिए पूरा वीडियो
  • हथुआ में जाली स्टाम्प पर बनता शपथ पत्र!
  • Siwan से गुजरने वाली Sampark Kranti के Reservation Bogi का हाल जनरल से भी बुरा है
  • Gopalganj : लश्कर से नहीं, जनता से जुड़े हैं मुकेश पांडेय के तार
  • Hathua का IDEN School. जहां पढ़े थे देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद
  • Rajendra prasad को क्यों भूल रही है पब्लिक? देखिये बिहार के मंत्री का जवाब.
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com