छत्तीसगढ़, गुजरात और झारखंड ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिये पांच-पांच करोड़

पटना. बिहार में इस वर्ष बाढ़ की विभीषिका से प्रभावित लोगों के लिए आज छत्तीसगढ़, गुजरात और झारखंड सरकार ने मुख्यमंत्री राहत कोष में पांच-पांच करोड़ (कुल 15 करोड़) रुपये दिये। मुख्यमंत्री कार्यालय सूत्रों ने यहां बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार ने आरटीजीएस के माध्यम से बिहार के मुख्यमंत्री राहत कोष में पांच करोड़ रुपये की राशि दी।  इसी तरह आज ही गुजरात के राजस्व, शिक्षा एवं संसदीय कार्य मंत्री भूपेन्द्र सिंह चुडासामा ने यहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलकर बाढ़ पीड़तिों की सहायतार्थ मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए पांच करोड़ रुपये का चेक सौंपा। वहीं, झारखंड के नगर विकास एवं आवास तथा परिवहन मंत्री चन्द्रेश्वर प्रसाद सिंह ने भी श्री कुमार को पांच करोड़ रुपये का चेक भेंट किया।
इससे पूर्व बाढ़ से हुई तबाही को देखते हुये मध्य प्रदेश के सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग ने मुख्यमंत्री श्री कुमार से मुलाकात की थी और उन्हें राहत कोष के लिए पांच करोड़ रुपये का चेक सौंपा था। वहीं, सार्वजनिक क्षेत्र की अग्रणी तेल एवं गैस खोज और विपणन कंपनियों तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड(ओएनजीसी), इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड(आईओसीएल), भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड(बीपीसीएल), हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल), भारतीय गैस प्राधिकरण लिमिटेड(गेल), ऑयल इंडिया लिमिटेड(ओआईएल) और नुमालीगढ़ रिफाइनरी लिमिटेड(एनआरएल)के प्रतिनिधिमंडल ने 15 करोड़ का चेक राहत कोष में दिया था।
इसी तरह फिल्म अभिनेता आमिर खान ने अपने आमिर खान प्रोडक्शन प्राइवेट लिमिटेड की तरफ से 25 लाख रुपये का चेक राहत कोष में दिया था। इसके अलावा बिहार विधानमंडल दल के नेताओं ने भी राहत कोष में अंशदान किया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राहत कोष में एक लाख 34 हजार रुपये, राज्यसभा सांसद डॉ. सी. पी. ठाकुर ने अपने सांसद निधि से 20 लाख रुपये तथा अपनी तरफ से 8030 रुपये जबकि जहानाबाद से सांसद अरुण कुमार ने एक लाख रुपये का चेक राहत कोष में दिया है।






Related News

  • छत्तीसगढ़, गुजरात और झारखंड ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिये पांच-पांच करोड़
  • बिहार की राजनीति में कौन है ‘कांग्रेस का विभिषण’
  • डाक्टरों ने बच्चे के पेट में कैंची छोड़ा, पांच साल बाद दोबारा ऑपरेशन के बाद मौत
  • एक किलो चीनी पर खर्च होता है 2000 लीटर पानी
  • बाढ़ से रूका समस्तीपुर-दरभंगा रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन शुरू
  • बिहार में आडवाणी का रथ रोकने वाले पूर्व नौकरशाह अब मौदी के कैबिनेट में
  • इलाज के दौरान मरीज भले मर जाए, रेफर करने वाले का कमीशन नहीं मरेगा!
  • इस्तीफा देकर क्या बोले मोदी के मंत्री- उमा भारती, राजीव रूडी, संजीव बालयान, फग्गन सिंह कुलस्ते.
  • Comments are Closed