शर्मनाक! देश की टॉप 100 यूनिवर्सिटियों में बिहार का कोई यूनिवर्सिटी नहीं

दरभंगा/पटना. देश भर में फैले 1360 विश्वविद्यालय और 200 स्वायत्त काॅलेज के बीच किये गए रैंकिंग में टॉप 100 में बिहार का एक भी विश्वविद्यालय शामिल नहीं है. ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय ने देश भर में 104 वह बिहार में पहला स्थान जरूर पा्रप्त किया है.  दरभंगा इस्तिथ ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय ने देश भर के यूनिवर्सिटीयों की ताजा रैंकिंग में बिहार में प्रथम स्थान पाकर एक बार फिर से सूर्खिया बटोरी है. मालूम हो कि देश भर में फैले 1360 विश्वविद्यालय और 200 स्वायत्त काॅलेज के बीच किये गए रैंकिंग में, एल०एन०एम०यू० को बिहार में पहला रैंकिंग मिला है. वहीं पूरे भारत में 104वाॅ रैंक मिला है. इसे लेकर के रिपोर्ट हाल में ही प्रकाशित किया गया, जहां विश्वविद्यालयों की रैंकिंग को लेकर घोषणा हुईं.
ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय ने जहां बिहार में पहला स्थान बनाया, वहीं सूबे के अन्य विश्वविद्यालय की बात करें तो पटना विश्वविद्यालय को दूसरा रैंक, एनआईटी पटना को तीसरा, आई०आई०टी० पटना चौथे, वहीं मगध विश्वविद्यालय को पाॅचवा स्थान प्राप्त हुआ है. एलएनएमयू पढ़ाई के साथ सत्र को नियमित एवं रिजल्ट का समय पर प्रकाशन करने, खेलकूद की गतिविधियों में आगे रहने और बेहतरीन प्रशासनिक ढांचे के लिए हाल में ही एल०एन०एम०यू० ने सूर्खिया बटोरी थी. जहां स्नातक पार्ट वन में ऑनलाइन एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन को लेकर के राज्य से छात्रों का आवेदन सबसे ज्यादा इसी विश्वविद्यालय के लिए किया गया था.
ज्ञात हो कि ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी 520562 छात्रों के स्नातक पार्ट वन में ऑनलाइन एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन के आवेदन के साथ प्रथम, तो पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी 280014, दूसरे, वीर कुंवर सिंह यूनिवर्सिटी 249325 के साथ तीसरा, तो बी०आर०ए०बी०यू० 205235 के साथ चौथे स्थान पर रहा था.





Related News

  • बंगलुरु में बिहारी प्रवासियो ने स्वस्थ भारत यात्रियो का किया जोरदार स्वागत
  • सारण की बेटी ने शत्ताक्षी ने जीता मिस इंडिया 2nd रनरअप का खिताब
  • क्या लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विजय रथ रोकेंगी ये तीन देवियां!
  • सस्ती दवाइयों पर जागरूकता के लिए 21000 किमी की स्वस्थ भारत यात्रा शुरू
  • सिवान के पत्रकार राजदेव हत्याकांड: पूर्व सांसद शहाबुद्दीन समेत आठ पर आरोप तय
  • कर्पूरी ठाकुर भारत रत्न के असली हकदार
  • सेहत के विषयों को प्रमुखता दे मीडिया: आशुतोष कुमार सिंह
  • इसलिए होती है मंत्री पद के लिए ‘मारामारी’ -1
  • Leave a Reply

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com