बिहार में एक मुस्लिम मंत्री से मांगी गई चौथी बार रंगदारी

बिहार के इस मंत्री से चौथी बार मांगी गई रंगदारी, न देने पर जान से मारने की धमकीपटना.सूबे के गन्ना मंत्री मो. खुर्शीद आलम धमकी और रंगदारी मांगे जाने को लेकर एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं। शनिवार को चौथी बार उनसे रंगदारी की मांग हुई है। इस बार फोन से दस लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई। उन्होंने कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। विधि-व्यवस्था डीएसपी डॉ. मो. शिब्ली नोमानी ने बताया कि जिस मोबाइल नंबर से कॉल कर मंत्री से रंगदारी मांगी गई है, उसका इस्तेमाल करने वाले का पता लगाया जा रहा है। जानकारी के अनुसार शनिवार की दोपहर गन्ना मंत्री मो. खुर्शीद आलम अपने सरकारी आवास पर थे, तभी एक बजकर 59 मिनट पर उन्हें अज्ञात नंबर से कॉल आया। कॉल करने वाले शख्स ने उनसे दस लाख रुपये की रंगदारी देने की मांग की। साथ ही रकम नहीं मिलने पर जान से मारने की धमकी दी। इस अज्ञात शख्स से मंत्री को बैंक खाते का नंबर भी दिया, जिसमें उनसे रंगदारी की रकम जमा करने को कहा गया। मंत्री ने अपना मोबाइल खंगाला तो मालूम हुआ कि शुक्रवार की शाम को भी उन्हें रंगदारी के लिए एसएमएस आया था, लेकिन वह देख नहीं पाए। इससे पहले 11 दिसंबर को उन्हें रंगदारी के लिए कॉल आया था। उस वक्त वह बेतिया जिले में थे। वहीं के थाने में उन्होंने प्राथमिकी दर्ज कराई थी। इससे पूर्व तीन जून को उन्हें धमकी मिली थी। इस संबंध में सचिवालय थाने में मामला दर्ज किया गया था। जून से लेकर अब तक उनसे चार बार रंगदारी की मांग की जा चुकी है। हर बार अलग-अलग मोबाइल नंबर से उन्हें कॉल और मैसेज आए थे।






Related News

  • गोपालगंज समेत 17 जिलों में बढे 20 प्रतिशत क्राइम, बिहार का 60 प्रतिशत क्राइम इन्हीं जिलों में, सिवान में क्राइम कम
  • आय से अधिक संपत्ति मामले में छपरा के पूर्व डीएम दीपक आनंद के यहां छापे
  • नवादा : तीन साल के बच्चे को पिलाया भैंस के पाडा का खून, मौत
  • पटना : प्रेमिका को पाने के लिए बिहार के मंत्री से मांगी थी 10 लाख की रंगदारी
  • बिहार में एक मुस्लिम मंत्री से मांगी गई चौथी बार रंगदारी
  • गोपालगंज : पंजाब नेशनल बैंक से 11 लाख की लूट
  • बिहार में गैंगरेप के बाद पीडिता को ही बताया चरित्रहीन, मुंह पर पोता चूना कालिख
  • प्यार में धोखा दे रचा खुद के किडनैप का नाटक, जानिए 20 साल बाद कैसे पकडाया
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com