जो मिल चलाने लायक नही थी, उसे चला कर मुनाफा कमा रहा था सासामुसा का मिल मालिक

माले ने भी कहा—मजदूरों की मौत के लिए जिम्मेदार है मिल मालिक
बिहार कथा. गोपालगंज. कुचायकोट थाने के सासामूसा मिल में बुधवार की देर शाम हुए हादसे में मारे गए मजदूरों व घायलों का जिम्मेवार मिल मालिक है। उक्त आरोप भाकपा माले ने लगाया है। माले के नेताओं ने कहा कि सासामूसा मिल पूर्व से ही जर्जर अवस्था में है। मिल चलने लायक नहीं रहने के बाद भी इसे चलाया जा रहा था। वहीं मजदूरों को 130 रुपए से 160 रुपए की दैनिक मजदूरी दी जाती थी। मिल के जर्जर स्थिति में रहने के कारण रस की टंकी फट गई। भाकपा माले के जिला सचिव इन्द्रजीत चौरसिया ने ने कहा कि इस बड़े हादसे का जिम्मेदार सासामूसा मिल के मालिक हैं। उन्होंने दोषी मिल मालिक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर तत्काल उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की। साथ ही उन्होंने मृतक के परिजनों को 20-20 लाख रुपए व घायल के परिजनों को 10-10 लाख रुपए मुआवजा राशि देने की मांग की। वहीं मृतक के परिजन को सरकारी नौकरी देने की मांग की है। मांग करने वालों में माले जिला कमेटी सदस्य विद्या, अजात शत्रु, योगेन्द्र शर्मा, रीना शर्मा, जितेन्द्र पासवान विजय सिंह, जेएनयू छात्र संघ के पूर्व महासचिव चिन्टू कुमार आदि नेता शामिल हैं। नेताओं ने कहा कि अगर मांग शीघ्र पूरी नहीं की गई तो माले आंदोलन करेगा। उधर सासामूसा मिल में हुए हादसे पर मिल प्रबंधन पर कार्रवाई करने की मांग भाजपा ने भी की है। साथ ही मृत लोगों के परिजनों के प्रति भाजपा ने अपनी संवेदना व्यक्त की है। भाजपा के जिला महामंत्री रवि प्रकाश मणि त्रिपाठी ने कहा कि मिल प्रबंधन ने जो मुआवजा व नौकरी देने की घोषणा की है वह नाकाफी है। उन्होंने कहा कि अक्षम्य अपराध के लिए मिल प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।






Related News

  • मीरगंज में बैंक आॅफ बडौदा का मना 111वां स्थापना दिवस
  • आम आदमी ने पुलिस से किया सवाल तो दारोगा ने जमकर धुन दिया
  • गोपालगंज में कथित लव जेहाद! प्रेमी को जमकर पिटा और किया पुलिस को हवाले
  • गोपालगंज के युवक की सउदी अरब में मौत, डेथबॉडी वापसी में मदद के लिए आगे आए मुकेश पांडे
  • हथुआ अस्पताल के लिए तेजप्रताप के कामों को भुना रही भाजपा
  • गोपालगंज में सम्मेलन के नाम इस तरहसे अतिपिछडों को ठग रही है जदयू!
  • छपरा में रूह कंपाने वाली हैवानियत, 15 साल की लडकी पर तेजाब फेंक, गला काटा, आंखें निकाली
  • गोपालगंज में एक दलित की प्रताडना के बाद भी कंप्रोमाइज की कहानी अजात शत्रु की जुबानी
  • Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com