पटना के डीआईजी ने 70 थानेदारों का वेतन रोका, 10 डीएसपी को शोकॉज नोटिस

पटना : बिहार में कानून व्यवस्था में कोताही और पुलिसकर्मियों की लापरवाही को बिल्कुल अनदेखा नहीं किया जायेगा. वैसे पुलिसकर्मियों को दंडित किया जायेगा, जो अपने कर्तव्य में लापरवाही बरतते हैं. इसी क्रम में पटना सेंट्रल रेंज के डीआइजी राजेश कुमार ने सुस्त और लापरवाह थानेदारों पर गाज गिराते हुए सबसे बड़ी कार्रवाई की है. जानकारी के मुताबिक पटना डीआइजी ने 70 थानाध्यक्षों के वेतन पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दिया है. बताया जा रहा है कि इसमें सबसे ज्यादा पटना शहर और पटना ग्रामीण इलाके के थानेदार शामिल हैं. इस फैसले के बाद पटना ग्रामीण और शहरी इलाके में पदस्थापित पुलिसकर्मियों में हड़कंप मचा हुआ है.
पुलिस मुख्यालय से जुड़े सूत्रों की मानें, तो जिस थाने के थानेदारों का वेतन रोका गया है, उनमें राजधानी पटना के कोतवाली, बुद्धा कॉलोनी, पाटलिपुत्र, अगम कुआं, शास्त्री नगर, गर्दनीबाग, श्री कृष्णा पुरी, पीरबहोर, गांधी मैदान, दीघा, राजीव नगर, कंकड़बाग, जक्कनपुर, पत्रकार नगर, सचिवालय, परसा बाजार थाना के थानाध्यक्ष शामिल हैं. इतना ही नहीं सिटी इलाके के कई थानेदारों पर भी डीआइजी ने कार्रवाई की है. बताया जा रहा है कि पटना सिटी के आलमगंज, खाजेकला, दीदार गंज, बहादुरपुर, बाईपास, अगम कुआ, मालसलामी, चौक, मेहंदीगंज, थानेदार शामिल हैं. फतुहा के फतुहा, खुसरुपुर, दनियवान, शाहजहांपुर, थानेदारों का वेतन रोक दिया गया है.
डीआइजी राजेश कुमार ने थानेदारों के कार्य की सही तरीके से मॉनेटरिंग नहीं करने वाले डीएसपी स्तर के अधिकारियों पर भी गाज गिरायी है. राजेश कुमार ने ऐसे सभी 10 डीएसपी को शो कॉज नोटिस जारी किया है, जो अपने कर्तव्य में लापरवाही बरतते हैं. जानकारी के मुताबिक कारण बताओ नोटिस जारी कर तीन दिनों के अंदर डीएसपी से कहा गया है कि वह अपना रिपोर्ट दें. खासकर शराबबंदी को लेकर बेहतर कार्य करने की बात कही गयी है. राजेश कुमार ने यह कार्रवाई लापरवाही को लेकर की है.
बताया जा रहा है कि डीआइजी को बहुत दिनों से यह रिपोर्ट मिल रही थी कि पटना ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के इलाकों में थानेदारों द्वारा अपने काम को सही तरीके से और समय पर अंजाम नहीं दिया जा रहा है. रिपोर्ट मिलने के बाद डीआइजी राजेश कुमार ने उसकी समीक्षा की और वेतन रोक कर कार्रवाई की है. बाढ़ अनुमंडल के सभी थानेदारों का वेतन रोक दिया गया है. जिन थानेदारों का वेतन रुका है उनमें बाढ़, पंचमहला, मरांची, हथिदह, मोकामा घोसवरी, सम्यागढ़, बेलछी, सकसोहरा, पंडारक,बख्तियारपुर और सलीमपुर थाना प्रभारी शामिल हैं. पालीगंज और दानापुर अनुमंडल के अलावा मसौढी अनुमंडल के थानेदारों पर गाज गिरीहै. इन अनुमंडलों के धनरुआ, मसौढी, भगवानगंज, खीरीमोड़, रानीतालाब, पालीगंज, दुल्हिन बाजार, सिगोड़ी, का वेतन रोक दिया गया है.






Related News

  • सिवान के जंगलराज : महादेवा में गोली मारकर किशोर की हत्या, जेपी चौक तक बवाल
  • भाई ने जान गंवाकर बहन को किडनैप होने से बचाया
  • छपरा : एक करोड़ 90 लाख रुपये लूट की योजना हुई विफल तो मारी गोली
  • मशरक में कमिश्नर ने बाबासाहब की मूर्ति का अनावरण किया, रात में सामंतवादियों ने तोड़ दिया
  • गोपालगंज: मर्डर हुआ टीपी सिंह का और खौफ में आ गए सुनील सिंह!
  • गोलियों से गूंजा बेऊर जेल, कक्षपाल को गोली मार कर की खुदकुशी
  • जीजा साली का ऐसा ईश्क : लड़की ने कहा- कैद मंजूर है, लेकिन जीजा से जुदाई नहीं
  • थाने पहुंचकर बोली मां- नशे में धुत बेटा कर रहा जबर्दस्ती, मैंने मार डाला
  • Leave a Reply

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com