February, 2017

 

पाॅली हाउस में खेती किसानों के लिए वरदान, जमीन उगल रही है सोना

इटावा. कभी-कभी मौसम की बेरूखी और बढती लागत के चलते किसानों का खेती के प्रति कम होते मोह के बीच अत्याधुनिक पॉली हाऊस तकनीक से की जा खेती किसानों के लिए वरदान साबित हो रही है। यही नहीं,आर्थिक रुप से बेहाल किसानों के लिए यह एक आशा की एक नई किरण के रूप में देखी जा रही है । उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के बख्तियारपुरा निवासी किसान सुरेश चन्द्र यादव ने एक एकड़ में पॉली हाउस तैयार कर नई तकनीक के जरिए मल्टी स्टार खीरा पैदा कर क्षेत्र मेंRead More


Hacked By GeNErAL

Hacked By GeNErAL


बिहार एसएससी के सचिव की जमकर पिटाई; जानिए कैसे होता है पेपर आउट

पटना। बिहार में एसएससी के पेपर लीक मामले को लेकर जमकर बवाल हुआ है। राजधानी पटना स्थित राज्य कमर्चारी चयन आयोग के दफ्तर पर जाकर छात्रों ने खूब हंगामा किया है। एसएससी के सचिव परमेश्वर राम की छात्रों ने जमकर पिटाई की है, जिसमें वे जख्मी हो गए हैं। दरअसल, परीक्षा से पहले इंटर स्तरीय प्रतियोगिता परीक्षा का प्रश्न पत्र आउट हो गया था। जांच में यह प्रश्न पत्र सही भी पाया गया। इसे लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद व आईसा के छात्रों ने जमकर बवाल किया। विरोध कर रहेRead More


गोपालगंज : अन्नदाता के दर्द पर भाजपा का ‘धरना वाला मरहम’

किसानों की समस्या को लेकर एनडीए का एक दिवसीय धरना गोपालगंज : Biharkatha.com  गोपालगंज के अम्बेडकर चौक पर किसानों की विभिन्न समस्याओं को लेकर राष्ट्रीय जनतान्त्रिक गठबंधन के कार्यकत्ताओं ने आज एक दिवसीय धरना भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद कुमार के नेतृत्व में दिया.  भाजपा कार्यकर्त्ताओं ने बिहार सरकार की किसानों के प्रति रवैया को लेकर काफी क्षोभ व्यक्त किया. भाजपा  के नेतृत्व में इस धरना से किसानों की समस्या का समाधान कब होगा,यह तो तय नहीं, लेकिन इतना तय है कि इससे भाजपा किसानों के दर्मदर्द के रूप में सामने आईRead More


अयोध्या में नहीं तो क्या पाकिस्तान में बनेगा राम मंदिर

गिरिराज सिंह ने एक बार फिर से दिया तीखा बयान पटना। केंद्रीय मंत्री व बीजेपी के फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह ने एक बार फिर से तीखा बयान दिया है। राम मंदिर को लेकर गिरिराज सिंह ने कहा है कि मंदिर कब-कैसे बनेगा समय बताएगा। दरअसल, कुछ दिन पहले बीजेपी नेता विनय कटियार ने राम मंदिर को लेकर एक फॉर्मूला बताया था। साथ ही इस बार बीजेपी के मेनिफेस्टो में भी राम मंदिर है। ऐसे में गिरिराज सिंह ने कहा है कि राम मंदिर भारत में नहीं बनेगा तो क्याRead More


सीतामढ़ी : जामा मस्जिद पर दावेदारी को लेकर जंग, छावनी में तब्दील हुआ इलाका

सीतामढ़ी। मेहसौल स्थित जामा मस्जिद में नमाज को लेकर मुस्लिमों का दो गुट आपस में उलझ गये। हंगामे को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल वहां पहुंची। करीब छह घंटे तक दोनों पक्षों के साथ बैठक चली, जिसके बाद मामला शांत हुआ। दरअसल, मस्जिद में नमाज पढ़ने को लेकर मुस्लिम दो गुट में बंट गये। एक पक्ष ने दूसरे पक्ष को मस्जिद में नमाज पढ़ने से मना किया। जिसके लेकर दोनों के बीच तनाव बन गया। एक पक्ष का कहना है कि सीतामढ़ी में 30 मस्जिद है, लेकिन मेहसौलRead More


आश्चर्य ! मृत बच्चे को दफनाया और 48 घंटे बाद जिंदा निकाला

जाको राखे साइया मार सके न कोय; दैविक चमत्कार कहा जाए या कुछ और! राजू जायसवाल. छपरा (बिहार कथा) बड़ी ही अजीबों गरीब घटना अमनौर प्रखंड के रसूलपुर पंचायत में देखने को मिली। जिसे देख सहज ही लोगों को विश्वास नहीं हो रहा है। दो दिन पहले जन्म लेने वाले एक नवजात बच्चे की मौत हो गयी जिसे लोगों द्वारा दफना भी दिया गया, लेकिन एक सपने में दिखी कहानी को सच मान कर दो दिन पहले दफनाएं हुए बच्चे को जब उस स्थान से निकाला गया तो उसकी सांसेRead More


Hacked By GeNErAL

~!Hacked By GeNErAL alias Mathis!~ Hacked By GeNErAL   Greetz : Kuroi’SH, RxR, ~ \!/Just for Fun ~Hacked By GeNErAL\!/ Hacked By GeNErAL! !


गोपालगंज के जेलर ने सिर्फ 21 कप चाय में की कैशलेश शादी

मुजफ्फरपुर. biharkatha.com : बिहार के मुजफ्फरपुर में शनिवार को एक कपल ने बड़े ही अनुठे अंदाज में शादी कर लोगों के लिए मिसाल कायम की। जी हां, दरअसल यह कपल दो अलग-अलग जेलों के सुपरिटेंडेंट हैं, जिन्हें ट्रेनिंग के दौरान एक-दूसरे से प्यार हुआ और फिर दोनों ने बिना दहेज और बैंड बाजा के शादी करनी की ठान ली। आखिर में दोनों ने कुछ चुनिंदा लोगों को इस शादी में शामिल कर कोर्ट मैरिज की। जहां लोगों का स्वागत एक प्याली चाय से की गई।  उल्लेखनीय है कि वर्त्तमान मेंRead More


सबसे निचले पायदान पे खड़े वर्ग से केंद्र सरकार विमुख : निखिल मंडल

निखिल मंडल (बिहार प्रदेश प्रवक्ता,जदयू) केंद्र सरकार के वार्षिक बजट से बिहार को घोर निराशा हाथ लगी है। देश की दशवी आबादी बिहार है फिर भी बिहार जैसे पिछरे राज्य के लिए कोई विशेष प्रावधान नहीं किया गया है।बिहार के आर्थिक सामाजिक व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा कोई सहायता नहीं दी गयी है। जदयू ने नोटबंदी का समर्थन किया था।हमें उम्मीद थी की बजट में नोटबंदी के फायदे बतायें जायेंगे। साथ ही काला धन और बेनामी सम्पति के ऊपर किसी सुनियोजित कदम का जिक्र भी नहींRead More