September, 2015

 

एक वह छात्रसंघ,एक यह लोकतंत्र

संजय स्वदेश स्कूलों में पढ़ते हुए ही हमें परिभाषा बताई जाती है कि- लोकतंत्र- जनता की सरकार, जनता के लिए जनता के द्वारा चुनी जाती है। कुल मिलाकर यह समझाया जाता है कि जनता अपने ऊपर शासन स्वयं करती है। इस लिहाज से देश में जनता ही सर्वोच्च हुई, लेकिन हकीकत ऐसी है नहीं। देश की बहुसंख्यक जनता को दरकिनार कर दिया जाता है। जनता ने जब अपने ऊपर अपने शासन के लिए जनप्रतिनिधियों को अधिकार दे दिया तो उन्होंने खुद को सर्वोच्च मान लिया। जितनी समय अवधि के लिएRead More


पूर्व सांसद भी विधायक बनने को ठोक रहे ताल

आशीष कुमार मिश्र.पटना, ‘तुम नहीं और सही, और नहीं और सही’। कुछ इसी तर्ज पर इस बार बिहार विधानसभा के चुनाव में कई पूर्व सांसद चुनावी मैदान में विधायक बनने को ताल ठोक रहे हैं। वहीं कई पूर्व और मौजूदा सांसद अपनी विरासत को आगे बढ़Þाने अथवा क्षेत्र विशेष में अपना दबदबा कायम रखने के लिए अपने पुत्रों पर दांव खेल रहे हैं। प्राय: सभी प्रमुख दल से पूर्व सांसद या तो खुद या उनके पुत्र विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं। पूर्व सांसदों में दिनेश चंद्र यादव सिमरी बख्तियारपुर से, महाबलीRead More


चुनावी समर बीच नारा युद्ध

.बिहार में छिड़े विधानसभा चुनाव के महासंग्राम में एक ओर जहां नेता अपने भाषणों में एक-दूसरे पर जमकर आरोप लगा रहे हैं, वहीं नारों के जरिए भी न केवल मतदाताओं को आकर्षित करने के प्रयास किए जा रहे हैं, बल्कि एक-दूसरे पर निशाना भी साधा जा रहा है। चुनाव में नारों का अपना महत्व है और इसको राजनेताओं और राजनीतिक दलों से बेहतर भला कौन जान सकता है! राजनीतिक दल कम शब्दों में अपनी बात कहने और लोगों के बीच अपनी पैठ बनाने के लिए चुनाव प्रचार के दौरान नारों काRead More


सिसकिते रेशमी नगर भागलपुर की सभी नेताओं ने की अनदेखी

भागलपुर-पुत्र प्रेम का विरोध झेल रहे भाजपा अश्विनी सांसद चौबे! जयशंकर गुप्त भागलपुर। अजीब नजारा है। सुबह के छह बजे कुछ लोग तेज चाल से ‘मार्निंग वाक’ कर रहे हैं। कहीं योग और प्राणायाम हो रहा है। बच्चे भी हैं और बुजुर्ग भी। महिलाएं और बुजुर्ग तालियां पीटते हुए ठहाके लगा रहे हैं तो कहीं कुछ किशोर युवा जूडो-कराटे का अभ्यास कर रहे हैं। हरे भरे पेड़ पौधों पर पक्षियों की चहचहाहट और कलरव के बीच कुछ जगहों पर सुबह की सैर के दौरान विश्राम कर रहे लोग राजनीतिक चर्चाRead More


महागठबंधन के लिए सिरदर्द बनी ओबैसी की पार्टी

बिहार कथा, पटना। बिहार विधानसभा चुनाव में जदयू, राजद और कांग्रेस के महागठबंधन को भाजपा और उसके सहयोगियों से ही नहीं बल्कि असदुद्दीन ओवैसी की मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन (एमआईएम) जैसी छोटी पार्टियों से भी परेशानी महसूस हो रही है। ओवैसी अपनी पार्टी के उम्मीदवारों को सीमांचल की सीटों पर मैदान में उतारेंगे। महागठबंधन को आशंका है कि इससे मुस्लिम वोट बंटेंगे और नुकसान होगा। यही वजह है कि सीमांचल में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी दो रैलियों को संबोधित करेंगे ताकि मुस्लिम वोटों को महागठबंधन के पक्ष में रखा जा सके। महागठबंधन कीRead More


कुर्सी बचाने के फिराक में किसानों की सुधि लेने वाला कोई नहीं

निरंजन कुमार चंद्रमंडीह/चकाई (जमुई)। जो किसान कड़ी मेहनत कर लोगों का पेट भरने का काम करते हों आज वही किसान की हालत दयनीय हो गई है. किसानों को देखने वाला ना कोई जनप्रतिनिधि है और ना ही कोई पदाधिकारी. चुनाव के मौके पर कोई भी पदाधिकारी किसानों के मुझार्ये चेहरे की तरफ ध्यान नहीं देख रहे हैं जिससे किसानों की स्थिति काफी दयनीय हो चली है. एक-एक बूंद पानी के लिए किसानों के बीच हाहाकार मचा हुआ है. जहां सिंचाई का साधन है वहां के किसानों द्वारा डीजल पंप सेRead More


हाय रे चुनाव प्रचार! पेड़ पर लटका दिया पार्टी का झंडा

आदर्श आचार संहिता का खुलेआम उल्लंघन निरंजन कुमार चंद्रमंडीह/चकाई (जमुई)। चकाई प्राइवेट बस पड़ाव के समक्ष जिला परिसद डाकबंगला परिसर में लगे डगर फूल के वृक्ष में लोजपा का झंडा कई दिनों से लगे रहने के बाबजूद अबतक उसे प्रशासन द्वारा नहीं हटाया गया है जो चुनाव आचार संहिता का उल्लघन का मामला बनता है. पत्रकारों द्वारा इसकी सूचना प्रखंड निवार्ची पदाधिकारी सह प्रखंड विकास पदाधिकारी राजीव रंजन के अनुपस्थिति में चकाई अंचलाधिकारी अक्षयवट तिवारी एंव चकाई थानाध्यक्ष उपेन्द्र कुमार को दी गई. अंचलाधिकारी ने बताया कि इसकी जानकारी मुझेRead More


प्रभुनाथ व रूडी-सीग्रीवाल की प्रतिष्ठा दांव पर

सुशील कुमार सिंह, छपरा। जिले के विधानसभा चुनावी अखाड़े में एक ओर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद और पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह तो दूसरी ओर केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी व सांसद जनार्दन सिंह सीग्रीवाल की प्रतिष्ठा दांव पर है। महाबठबंधन और एनडीए के उम्मीदवारों की घोषणा के बाद अमूमन हर विधानसभा क्षेत्र में बगावतियों के तीखे तेवर दिख रहे हैं। अधिकतर बगावतियों ने चुनाव लड़ने का एलान करने के साथ ही अपने-अपने नामांकन की तिथि की घोषणा भी कर दी है। कुछ अब भी चुनाव मैदान में उतरने के पूर्वRead More


पप्पू यादव की पार्टी में शामिल हुए लालू के साले सुभाष यादव

पटना। राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के छोटे साले सुभाष यादव पप्पू यादव की जनअधिकार पार्टी (जेएपी) में शामिल हो गए। मधेपुरा के सांसद पप्पू यादव की उपस्थिति में सुभाष यादव एक ‘मिलन समारोह’ में जेएपी में शामिल हुए। सुभाष यादव के साथ लोजपा के राज्य महासचिव लल्लन सिंह, जद यू विधायक मीना द्विवेदी समेत कई दूसरे दलों के नेता भी जेएपी में शामिल हुए। कांग्रेस और जदयू के कुछ नेता भी जेएपी में शामिल हुए हैं। जेएपी बिहार विधानसभा चुनावों में तीसरे मोर्चे में शामिल पार्टी है। सुभाष यादव नेRead More


अब जीतन राम मांझी के दामाद ने की बगावत

पटना। लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान के दामाद द्वारा उनके खिलाफ बगावत किए जाने के बाद अब हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के प्रमुख जीतन राम मांझी के दामाद ने विद्रोह कर दिया है और आज उन्होेंने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन दाखिल किया। हम प्रमुख के दामाद देवेंद्र मांझी ने बोधगया (सुरक्षित सीट) से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन दाखिल किया। भाजपा ने अपने मौजूदा विधायक श्यामदेव पासवान को टिकट दिया है। देवेंद्र मांझी ने कहा कि उन्हें महादलित समाज के दबाव के कारण मैदान में उतरना पड़ा। लेकिनRead More