लालू की दो टूक तेजस्वी नहीं देंगे इस्तीफा

पटना. बिहार में सत्तारूढ़ महागठबंधन के प्रमुख घटक राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और जनता दल यूनाईटेड (जदयू) में उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के इस्तीफे को लेकर मचे घमासान के बीच राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने आज केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की प्राथमिकी को उचित कारण नहीं मानते हुये स्पष्ट कर दिया कि उप मुख्यमंत्री इस्तीफा नहीं देंगे। श्री यादव ने चारा घोटाला मामले में सीबीआई की विशेष अदालत में पेशी के बाद रांची से पटना लौटकर राजद के वरिष्ठ नेताओं के साथ ही तीसरे घटक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष एवं शिक्षा मंत्री के साथ अपने 10 सर्कुलर रोड स्थित आवास पर बैठक की। बैठक के बाद राजद अध्यक्ष ने कहा, “उप मुख्यमंत्री के खिलाफ सीबीआई की ओर से दर्ज की गई प्राथमिकी उनके इस्तीफा देने का वाजिब कारण नहीं है। प्राथमिकी दर्ज होने से भर से कोई इस्तीफा नहीं देता है इसलिए वह इस्तीफा नहीं देंगे। राजद विधानमंडल दल की बैठक में जो तय किया गया है हम उस पर कायम हैं। राजद अध्यक्ष ने केंद्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार पर बिहार की महागठबंधन सरकार को गिराने का आरोप लगाते हुये कहा कि महागठबंधन अटूट है। उनमें और मुख्यमंत्री एवं जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार के बीच कोई दूरी नहीं। उन्होंने कहा कि उनकी ओर से महागठबंधन तोड़ने का प्रयास नहीं किया जाएगा। श्री यादव ने कहा, हमारी संपत्ति की जानकारी सार्वजनिक है। इसके बारे में मुख्यमंत्री श्री कुमार को भी पता है। मुझ पर और तेजस्वी पर जो आरोप लगे हैं उनके बारे में मैं सफाई दे चुका हूं, अब और किसी के सामने सफाई देने की जरूरत नहीं है। लेकिन हां, प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई बुलायेगी तो अब वहीं सफाई दूंगा।
नहीं हुई सोनिया गांधी से बातचीत
राजद अध्यक्ष ने राज्य के सियासी घमासान को शांत करने के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी की श्री यादव और श्री कुमार से फोन पर हुई बातचीत की अटकलों को सिरे से खारिज करते हुये कहा कि श्रीमती गांधी से उनकी कोई बातचीत नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि समान विचारधारा वाले दलों को एक मंच पर लाने और देश से भाजपा का सफाया करने के लिए 27 अगस्त को प्रस्तावित राजद की रैली हर हाल में होगी। वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा को बिहार में घुसने नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि वह भाजपा की गीदड़भभकियों से डरने वाले नहीं हैं।
यह है विवाद की वजह
उल्लेखनीय है कि रेलवे के दो होटलों के लीज आवंटन में अनियमितता के आरोप में राजद अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के पटना स्थित आवास पर सीबीआई की ओर से हाल ही में की गई छापेमारी और उप मुख्यमंत्री के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के बाद से भाजपा श्री तेजस्वी प्रसाद यादव के इस्तीफे की लगातार मांग कर रही है। वहीं, राजद विधानमंडल दल की बैठक कर उप मुख्यमंत्री के किसी भी हालत में इस्तीफा नहीं देने का निर्णय सुना चुका है जबकि प्रमुख घटक जदयू विधानमंडल दल, जिलाध्यक्षों तथा विभिन्न प्रकोष्ठों के अध्यक्षों की बैठक कर श्री यादव से जनता के बीच जाकर उनपर लगे आरोपों का तथ्यपरक जवाब देने की मांग कर रहा है।






Related News

  • नीतीश व्यक्तिगत राग-विराग छोड़ लालू से करें बात : शिवानंद
  • कृष्णा शाही हत्याकांड में एसआईटी जांच की मांग
  • काली बाबा के मन में समाया गोपालगंज एसपी का खौफ
  • तेली साहू सम्मेलन में बोले लालबाबू- पहले तिजोरी खोलिए फिर राजनीति कीजिए
  • मायावती की बहादुरी के लिए बधाई, वे चाहें तो राजद उन्हें राज्यसभा भेज सकती है : लालू
  • सरकार बचाने की जिम्मेवारी कांग्रेस को देना, दूध की रखवाली बिल्ली को सौंपने जैसा : सुशील
  • शराबबंदी के बाद चकबंदी है नीतीश का अगला कदम
  • बोले तेजस्वी यादव, कहा, जो चल रहा है, मीडिया में ही चल रहा है, नहीं दूंगा इस्तीफा
  • Comments are Closed