Nitish Kumar

 
 

क्या भ्रष्टाचार सुशील मोदी को सत्ता में लाने का मीडिया का एजेंडा था?

वीरेंद्र यादव  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मीडिया के ‘दोहरे’ स्टैंडर्ड से आहत हैं। एक साल 5 महीना पहले मीडिया के लिए भ्रष्टाचार सबसे बड़ा मुद्दा था। लेकिन एक साल पांच महीना प‍हले जब भाजपा जदयू के साथ सत्ता में आ गयी तो मीडिया ने भ्रष्टाचार का मुद्दा छोड़ दिया है। एक साल पांच महीना प‍हले के भ्रष्टाचार के मुद्दों को कोई फॉलोअप भी नहीं कर रहा है। लगभग यही पीड़ा थी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की। लोकसंवाद के बाद मीडिया से चर्चा में सीएम ने साफ शब्दों में कहा कि भ्रष्टाचार के मुद्देRead More


टुअर हो गया नीतीश का ‘विकास’

वीरेंद्र यादव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का बेचारा ‘विकास’ टुअर हो गया। नीतीश भाजपा की ‘पालकी’ में इसलिए बैठ गये थे कि भाजपा उनके ‘विकास’ को भी ढोएगी। लेकिन भाजपा नीतीश के विकास के बजाये नरेंद्र मोदी के ‘सबका साथ, सबका विकास’ ढो रही है। नीतीश तो खुद अब अपने ‘विकास’ के बजाये ब्राह्मण, कोईरी, कहार और राजपूत को ढो रहे हैं। पटना में भाजपा पदाधिकारियों की बैठक में कार्यकर्ताओं ने एक सुर से शराबबंदी, दारूबंदी से लेकर थानोंमें अपमान का दर्द सुनाया। नागेंद्रजी और भूपेंद्र यादव ने दर्द को सहलायाRead More


अब भाजपा के लिए ‘कब्र’ खोद रहे हैं नीतीश!

भाजपा के वोटों पर अपना ‘जाल’ फेंक रहे हैं नीतीश कुमार वीरेंद्र यादव मुसलमानों के जदयू छोड़ने के बाद जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अब भाजपा के आधार वोट पर ‘डाका’ डालने की रणनीति पर काम कर रहे हैं। सत्ता के लिए वोटों की डकैती कोई नयी बात नहीं है। इससे किसी को परहेज भी नहीं रहा है। वोट के अखाड़े में नीतीश अब लालू यादव से नहीं, भाजपा से लड़ रहे हैं। भाजपा के वोटों पर अपना ‘जाल’ फेंक रहे हैं। प्रशांत किशोर पांडेय को राष्ट्रीयRead More


नीतीश-मोदी की यारी, फोक सियारी और दूसरों के काम में मुंहमारी

वीरेंद्र यादव भाजपा के निलंबित सांसद सांसद कीर्ति झा आजाद ने कहा है कि नीतीश कुमार और सुशील मोदी की यारी दूसरे के काम का श्रेय लूटने के लिए है। दरभंगा से दिल्ली जाने के दौरान पटना में पत्रकारों से आजाद कहा- दरभंगा से हवाई सेवा शुरू करने का अथक प्रयास उन्होंने किया था। इस संदर्भ में मिथिला के सांसदों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलकर ज्ञापन सौंपा था। लेकिन जब सभी प्रक्रिया पूरी हो गयी तो वायुसेना के हवाई अड्डा परिसर में सिविल इन्क्लेव के निर्माण का शिलान्यासRead More


नीतीश का बंगला प्रेम और बंगले पर राजनीति

वीरेंद्र यादव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बंगले के शौकीन हैं। अभी आधिकारिक रूप से उनके नाम तीन बंगले आवंटित हैं। पटना में एक अण्णे मार्ग और सात सर्कुलर रोड। एक मुख्यमंत्री के रूप में, दूसरा पूर्व मुख्यमंत्री के रूप में। तीसरा बंगला केंद्र सरकार ने दिल्ली में नीतीश कुमार को भेंट किया है। यह ‘उपहार’ बिहार की सत्ता में भाजपा को हिस्सेदार बनाने के लिए दिया गया है। लेकिन नीतीश कुमार बंगले पर राजनीति भी खूब करते हैं। 2013 में नीतीश कुमार ने भाजपा को ‘धकिया’ कर सरकार से बाहर काRead More


क्यों नीतीश को इतना भाव देती है भाजपा?

Pushy Mitra उस वक्त जब नीतीश अपने राजनीतिक जीवन के सबसे कठिन दौर से गुजर रहे हैं, उनकी साख लगभग मिट्टी में मिलती नजर आ रही है. मुजफ्फरपुर कांड में पहले चुप्पी, फिर सुस्त कार्रवाई ने उनकी छवि किसी खलनायक जैसी बना दी है. ऐन उसी वक्त भाजपा राज्य सभा के उप सभापति पद के लिए जदयू के एक सांसद को उम्मीदवार बनाती है. आखिर कौन सी वजह है कि महज दो लोकसभा सीट और बहुत सीमित वोट बैंक वाली पार्टी जदयू के नेता नीतीश को भाजपा इतना भाव देतीRead More


अगला प्रधानमंत्री कोई भी हो, मेरी प्राथमिकता बीजेपी और मोदी को हराना: तेजस्वी यादव

विश्वदीपक बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने नवजीवन से खास बातचीत में कहा कि 2019 का लोकसभा चुनाव गांधी-अंबेडकर-मंडल और गोलवलकर-गोडसे की विचारधारा के बीच होगा। ये लड़ाई देश और संविधान को बचाने की है। ये लड़ाई लोकतंत्र को बचाने की है। बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने पिछले कुछ महीनों में अपने राजनीतिक सूझ-बूझ का परिचय देते हुए बिहार के उपचुनावों में अपनी पार्टी को महत्वपूर्ण जीत दिलाई है। एक तरह से देखा जाए तो उन्होंने बिहार में विपक्ष के नेतृत्वRead More


Share
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com