अब सीवान, अरवल, गोरखपुर जैसे शहरों से कोई पत्रकार कैसे बनेगा?

मृत्युंजय त्रिपाठी बिहार के अरवल में राष्ट्रीय सहारा के पत्रकार पंकज मिश्रा को आज गोली मार दी गई। एक अपराधी गिरफ्तार भी हुआ है। एसपी ने तुरंत कारण भी पता कर लिया। बोले कि निजी दुश्मनी में ऐसा किया गया…। पंकज को गोली विधायक के पीए के बेटे ने मारी है। इसके बाद भी कारण यह नहीं कि सामने वाला उनकी लेखनी से डर गया था, या उन्हें चुप कराने की नीयत थी। यह न फासीवाद है, न लोकतंत्र की हत्या है, यह थानों में दर्ज तमाम एफआईआर में एक … Continue reading अब सीवान, अरवल, गोरखपुर जैसे शहरों से कोई पत्रकार कैसे बनेगा?