हमरा मालिक के बोलवा दी ए एमपी साहेब, राउर जीनगी भर एहसान ना भूलेम !

विजय तिवारी, गोपालगंज.
बिहार कथा.हमरा मालिक के बोलवा दी ए एमपी साहेब, राउर जीनगी भर एहसान ना भूलेम ! सीमा देवी के ये शब्द सुनकर किसी के भी आंखों में आंसू ला देते हैं। सांसद जनक राम भी बिलखती सीमा के दर्द को जान स्वयं को भावुक होने से रोक नहीं पाए। मीरगंज थाना क्षेत्र के सवरेजी हाकीम टोला गांव की सीमा के पति शैलेश शर्मा 31 मार्च 2007 को सउदी अरब गए । बूढ़ी मां तथा अन्य भाईयों के लिए सहारा था। तीन माह की अपनी दूध मूंही बच्ची तथा पत्नि सीमा को सपना दिखा कर गया था कि अब सब ठीक है जाएगा । जब वह लौटेगा तो उसके लिए बहुत सारा सामान लेकर आएगा। किन्तु आज ग्यारह साल से ज्यादा हो गया । सीमा अब उन सपनों की क्या सोचे जब उसके मांग की सिन्दुर ही असुरक्षित दिख रहा । पति का ग्यारह साल से कुछ अतापता नहीं । जिलाधिकारी के जनता दरबार में जुन 2010 में लगाया गया गुहार सात साल बाद भी सरकार के कानों तक नहीं पहूंच पाई । सउदी अरब जाने के बाद लगभग छः माह तक शैलेश से बात होती रही । लेकिन उसके बाद न कभी फोन आया नहीं कोई सूचना । इसके बाद जब जैसे लोगों ने बताया, शैलेश की बूढ़ी मां तथा पत्नि सीमा कार्यालय-कार्यालय भटकती रही । न प्रशासन ने सुधि ली नहीं किसी जनप्रतिनिधि ने । आज किसी ने उन्हें बताया कि सांसद जनक राम ने विदेशों में फंसे बहतों को वापस लौटने में मदद किया है । अतः वहीं जाओ, आपके पति लौट आएंगे । आज बूढ़ी सास तथा अपने बहनोई के साथ सांसद जनक राम के पास आई सीमा ने आप बीती सुनाई तो सांसद भी स्वयं को भावुक होने से रोक नहीं पाए । सांसद ने तुरंत पूरी जानकारी लेकर विदेश मंत्री सुष्मा स्वराज को मेल किया । गौरतलब हो कि सांसद ऐसे कई मामलों में पुर्व में भी सहयोग कर विदेशों में फंसे लोगों को वापस लौटने में मदद किया है। (गोपलगंज के पत्रकार विजय तिवारी के फेसबुक टाइम लाइन से साभार)






Related News

  • गोपालगंज में खुला रोटी बैंक
  • हथुआ में हथियार के बल पर 4 लाख की लूट
  • खुद बीमार हो गया तिरबिरवां पंचायत का स्वास्थ्य केन्द्र
  • महिलाओं की बदहाली के खिलाफ सावित्री बाई फुले ने फूंका था क्रांति का बिगुल
  • गोपालगंज के पं दीनदयाल स्टेडियम पर लगी कुव्यवस्था की डायन !
  • जयंती पर याद किये गए मौलाना मजहरुल हक
  • कमला राय कॉलेज में कुव्यवस्था के खिलाफ छात्रों ने प्राचार्य का पुतला फूंका
  • दर्दनाक! मां के अंतिम संस्कार को बेटी ने भीख मांग जुटाए पैसे
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com