बेगूसराय में एससी एसटी कानून के खिलाफत में आया सवर्ण समाज

बेगूसराय से बिहार कथा.अजय शास्त्री की रिपोर्ट
सुशासन बाबू के पूर्व मंत्री व नीतीश कुमार के चहेते पूर्व मंत्री श्याम रजक को स्थानीय सवर्ण समाज के लोगों ने विरोध किया है. बेगूसराय में सवर्ण आंदोलन के दौरान फर्जी मुकदमे किये जाने के विरोध में स्वर्ण सेना के लोगों ने जिला प्रशासन और जिला पुलिस प्रशासन के खिलाफ सड़कों पर नारेबाजी किया और समाहरणालय स्थित एसपी कार्यालय का घेराव किया। आंदोलनकारियों ने कहा कि पुलिस सवर्णो के खिलाफ झूठा मुकदमा वापस ले. वहीं आंदोलनकरियों ने पुलिस अधीक्षक से मिलकर निर्दोष लोगों को छोडने की मांग कर रहे थे। लोगो का कहना यह भी है कि जदयू के नेता श्याम रजक पर हुए हमले के आरोप में कई निर्दोष लोगों के खिलाफ पुलिस झुठा मुकदमा कर सवर्णो पर नामजद प्राथमिकी दर्ज करवा रही है। जिससे लोग आक्रोशित होकर जिला प्रशासन और जिला पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर पुरे शहर में नारेबाजी की और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री श्याम रजक और अखिलेश शर्मातथा विद्या मंझी सहित 15 अंगरक्षकों पर बेगूसराय न्यायालय में मुकदमा दर्ज किया।
सवर्ण सेना के लोगो का यह भी आरोप है कि भारत बंद के दिन पुलिस की मौजूदगी में प्रदर्शन कर रहे थे। पर सरकार के लोगों ने हमला किया। आरोप है कि श्याम रजक और उसके सुरक्षा गार्डों ने जानबूझकर जमकर्मियो को पीटा और सवर्णो गाली दिया। साथ ही झुठा मुकदमा कर फसाने की धमकी भी दिया।






Related News

  • हथुआ के शराबियों पर क्रेजी रोमियों का कहर, एक महीने में कई मरें!
  • गोपालगंज में लडकी को मारा धाका, पब्लिक ने बाइक सवार को बनाया बंधक, लडकी गोरखपुर रेफर
  • अमरेंद्र पांडे के खिलाफ जांच करेंगे उचकागांव थाना के दरोगा जी!
  • अस्पताल से नवजात को मुंह में उठाया और चबा कर खा गया सुअर
  • क्या आप जानते हैं गोपालगंज में एक संगीत महाविद्यालय भी चलता है..
  • MLA पप्पू पांडे औरBJP नेता शिव कुमार उपाधयाय के विवाद का vedio
  • आखिर पप्पू पांडे ने शिवकुमार उपाध्याय को क्यों घेरा?
  • बिहार नवरात्रि में बलि के नाम अपने ही बेटे के सिर में ठोकी कील
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com