हथुआ में करंट से पांच महीने में चार की मौत

हथुआ में करंट से किशोर की मौत,अस्पताल में प्रदर्शन

अस्पताल परिसर में शव रख कर घंटो किया प्रदर्शन,पहुंचे अधिकारी व जनप्रतिनिधि 

चिकित्सक व बिजली कंपनी पर प्राथमिकी करने के आश्वासन के बाद शांत हुए लोग 

सुनील कुमार मिश्र।गोपलगंज। हथुआ थाने के रतनचक गांव में एक किशोर की मौत बिजली के करंट से हो गयी। किशोर गांव के अशोक राम का 15 वर्षीय पुत्र राजकिरण राम बताया गया है। करंट लगने के बाद  अचेत किशोर को जब अनुमंडलीय अस्पताल लाया गया। तब ड्यूटी पर कोई डाक्टर उपलब्ध नहीं था। जिसके बाद किशोर को मीरगंज के निजी क्लिनिक में ले जाया गया। इस क्रम में किशोर की मौत हो गयी। घटना की सूचना पर सैकड़ों ग्रामीण अनुमंडलीय अस्पताल में पहुंच गए तथा शव रख कर प्रदर्शन शुरू कर दिए। मुखिया प्रतिनिधि रामेश्वर सिंह के नेतृत्व में असलम आलम,गोलू सिंह,संजीव सिंह मुन्ना,प्रशांत सिंह,राजकुमार राम,सुनील कुंवर,योगेन्द्र साह,बदन सिंह,दीपू पाठक,हेमन ठाकुर,बाबुद्दीन खान,नंदलाल राम,अमित सिंह,सवारो देवी आदि आक्रोशित ग्रामीणों ने ड्यूटी से गायब रहने वाले डाक्टर पर कार्रवाई तथा बिजली कंपनी से मुआवजा की मांग को लेकर अस्पताल परिसर में प्रदर्शन किया। लोगों ने शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाने से इनकार कर दिया। घटना की सूचना पर पहुंचे जिप अध्यक्ष मुकेश पांडेय ने वरीय अधिकारियों से बात कर आवश्यक कार्रवाई की मांग की। साथ ही लोगों को शांत कराने की  दिशा में पहल शुरू की। मौके पर एसडीओ प्रमोद कुमार राम,सीओ धर्मनाथ बैठा,इंस्पेक्टर विमल कुमार,एसआई प्रशांत कुमार,प्रमुख प्रतिनिधि सत्येन्द्र शर्मा ने काफी मशक्कत के बाद लोगो को समझा-बुझा कर शांत कराया। एसडीओ ने पारिवारिक लाभ योजना के तहत 40 हजार रूपया दिलाने  तथा डाक्टर व बिजली कंपनी पर प्राथमिकी दर्ज कराने का आश्वासन दिया। तब जा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। बाद में एसडीओ ने अस्पताल उपाधीक्षक डा उषा किरण वर्मा के साथ बैठक कर अस्पताल की व्यवस्था व समस्याओं की समीक्षा की।
चार बहनों के बीच इकलौता भाई था राज : राजकिरण राम चार बहनों के बीच इकलौता भाई था। काफी मन्नतों के बाद उसका जन्म हुआ था। लेकिन इस हृदय विदारक घटना से परिजनों को तोड़ कर रख दिया। अपने घर के चिराग के बुझने से मां व बहनों सहित अन्य परिजनों का अस्पताल में रो-रो कर बुरा हाल था। मां गश खा कर बार-बार गिर जा रही थी। जिसे देखकर उपस्थित लोगों की आंखे भी नम हो जा रही थी। पिता अशोक राम कोलकात्ता में मजदूरी का काम करते हैं। बच्चें की मौत की सूचना पा कर वे घर लौट रहे हैं।

पिछले पांच माह में करंट से चार की मौत 

हथुआ प्रखंड अंतर्गत पिछले पांच माह में करंट से मौत की यह चौथी घटना है। इसके पूर्व कुसौंधी बाजार में 13 सितंबर को करंट से दादी व पोते की मौत हुई थी। कुसौंधी बाजार के राधेश्याम चौबे की पत्नी रामावती देवी व अरविन्द चौबे के पुत्र राजन चौबे की मौत घर से सटे खेत में मक्का तोड़ने के दौरान गिरे तार के चपेट में आने से हो गयी थी। इसके अलावा तुरपट‌्टी गांव में रामकुमार सिंह के पुत्र की भी मौत 21 अक्टूबर को करंट से हो गयी थी। इसके बाद रतनचक गांव में करंट से यह चौथी मौत है।






Related News

  • गोपालगंज : इंजीनियरिंग कॉलेज खोलने के नाम पर राजनीतिक
  • गोपालगंज : बेखौफ अपराधियो ने एक को मारी गोलियां , मचाया लूटपाट का आतंक
  • गोपालगंज : कटेया प्रीमियर लिग पर सिवान का कब्जा।
  • गोपालगंज : अनिश्चितकालीन आमरण अनशन पर बैठी सिधवलिया प्रखण्ड प्रमुख
  • गोपालगंज : अब प्रत्येक वार्ड में गठित होगी तीन सदस्यीय कमेटी
  • गोपालगंज : टीईटी शिक्षक संघ ने डीपीओ पर लापरवाही का लगाया आरोप
  • गोपालगंज : सिकटा हाटा ने लाईन बजार को हराया
  • मर जाएम तब सरकार दी हमार पेंशन के पइसा!
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com