गोपालगंज के बदरजीमी में बांस की कोठी से मिला फेंका हुआ नवजात

मीरगंज. मीरगंज थाने के बदरजीमी के वार्ड संख्या 16 में स्कूल के समीप बांस की कोठी से सोमवार की सुबह लवारिस हालत में एक नवजात को बरामद किया गया। नवजात को महज एक छोटे से कपड़े में लपेट कर बांस की कोठी में फेंक दिया गया था। सोमवार की अहले सुबह जब लोग शौच के लिए निकले तो बांस की कोठी से बच्चे की रोने की आवाज सुनी। वहां लोगों की भीड़ लग गई। संयोग यह था कि कड़ाकें की ठंड के बाद भी नवजात जीवित था। बाद में गांव के ही गरजू मांझी की पत्नी ने नवजात को उठा कर कलेजे से लगा लिया। आनन-फानन में उसे प्राथमिक उपचार के बाद सीवान रेफर किया गया। जहां नवजात का उपचार चल रहा है। गरजू मांझी ने बताया कि उनकी पत्नी को तीन बेटियां हैं। नवजात का मिलना उनके लिए वरदान है। पालन पोषण करूंगा। इधर,इस घटना की चर्चा बदरजीमी बाजार सहित समूचे इलाके में हो रही है। मानवता को शर्मसार करने वाली इस घटना लोग हतप्रभ हैं।






Related News

  • गोपालगंज में खुला रोटी बैंक
  • हथुआ में हथियार के बल पर 4 लाख की लूट
  • खुद बीमार हो गया तिरबिरवां पंचायत का स्वास्थ्य केन्द्र
  • महिलाओं की बदहाली के खिलाफ सावित्री बाई फुले ने फूंका था क्रांति का बिगुल
  • गोपालगंज के पं दीनदयाल स्टेडियम पर लगी कुव्यवस्था की डायन !
  • जयंती पर याद किये गए मौलाना मजहरुल हक
  • कमला राय कॉलेज में कुव्यवस्था के खिलाफ छात्रों ने प्राचार्य का पुतला फूंका
  • दर्दनाक! मां के अंतिम संस्कार को बेटी ने भीख मांग जुटाए पैसे
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com