हथुआ कॉलेज के छात्रों के लिए झांसा बनी वाईफाई सुविधा की बात

टावर व कनेक्शन के बावजूद नहीं मिल रही वाईफाई की सुविधा
फरवरी माह से ही मिलनी थी सुविधा,नहीं दूर हो रही तकनीकी गड़बड़ी 
सुनील कुमार मिश्र.हथुआ/ गोपालगंज.
बिहार कथा. गोपेश्वर महाविद्यालय हथुआ मे छात्र-छात्राओं को वाईफाई की सुविधा उपलब्ध कराने की महत्वकांक्षी योजना पिछले एक साल से अधर में लटकी हुई है। जिससे अत्याधुनिक ढंग से पठन-पाठन का सपना पाले छात्र-छात्राओं की उम्मीदों पर पानी फिरता नजर आ रहा है। मुख्यमंत्री के सात निश्चय योजना के तहत पिछले वर्ष नवंबर-दिसंबर माह में कॉलेज कैंपस में जोर-शोर के साथ वाईफाई लगाने का काम शुरू हुआ। कैंपस में टावर खड़ा किया गया,साथ ही सभी विभागों में कनेक्शन जोड़ने का काम भी तेजी से हुआ। कॉलेज प्रशासन द्वारा ऐसी घोषणा की गयी कि 20 फरवरी से कॉलेज में छात्र-छात्राओं को वाईफाई की सेवा मिलनी शुरू हो जायेगी। लेकिन एक साल बीतने को है,अब तक सेवा शुरू नहीं हो पायी। कॉलेज में वाईफाई के नोडल पदाधिकारी डा अरशद मसूद हाशमी ने बताया कि विभागों में कनेक्शन  जोड़ दिए गए हैं। वाईफाई की सुविधा देने के लिए 500 रेगुलर छात्र-छात्राओं की सूची भी तैयारी कर ली गयी थी। लेकिन टावर लगाने वाली एयरटेल कंपनी का नेट काम नहीं कर रहा है। जिसके चलते वाईफाई की सुविधा छात्र-छात्राओं को नहीं मिल रही है।
क्या है वाईफाई देने की व्यवस्था
यह सुविधा सिर्फ कॉलेज में आने वाले नियमित छात्र-छात्राओं को ही मिलेगी। वाईफाई का पासवर्ड छात्र-छात्राओं  को उनके संबंधित विभागाध्यक्ष से मिलेगा। हर विभाग का अलग-अलग पासवर्ड होगा। विद्यार्थी व अध्यापक  सिर्फ पठन-पाठन के लिए ही वाईफाई सेवा का उपयोग कर सकते हैं। कॉलेज में वाईफाई से कौन सी साइट खोली जा रही है और उसका उपयोग किया जा रहा है,उसकी गहन निगरानी कॉलेज व विश्वविद्यालय द्वारा की जायेगी। सभी विभागों के नियमित छात्र-छात्राओं की सूची तैयार की गयी है। सूची में बच्चें का नाम,रौल नंबर व मोबाइल नंबर रहेगा। उनको एक साल के लिए वाईफाई की सुविधा दी जायेगी। पास आउट होने के बाद कॉलेज प्रशासन द्वारा नयी सूची तैयार की जायेगी। वाईफाई सेवा को लेकर जेपी यूनिवर्सिटी छपरा में भी एक महत्वपूर्ण बैठक कर के आवश्यक दिशा निर्देश कॉलेज प्रशासन को जारी किया गया है। इस सुविधा को लेकर कॉलेज के नियमित छात्र-छात्राओं में काफी उत्साह भी देखने को मिला था। इस सुविधा से कॉलेज का शैक्षणिक स्तर सुधरने की भी संभावना जतायी जा रही है।

क्या कहते हैं नोडल पदाधिकारी 
कॉलेज में वाईफाई के लिए टावर व कनेक्शन जोड़ दिया गया है। लेकिन तकनीकी कारणों से नेट चालू नहीं हो पा रहा है। कंपनी के इंजीनियर द्वारा कई बार आ कर तकनीकी समस्या को दूर करने का प्रयास किया जा चुका है। लेकिन सफलता नहीं मिली है। नेट चालू होते ही छात्र-छात्राओं को वाईफाई का कनेक्शन दे दिया जाएगा। वाईफाई के लिए पासवर्ड देने को लेकर 500 रेगुलर छात्र-छात्राओं की सूची भी तैयार की जा चुकी है। 
प्रो.अरशद मसूद हाशमी,नोडल पदाधिकारी,वाईफाई सेवा 
गोपेश्वर कॉलेज हथुआ






Related News

  • गोपालगंज के युवक की सउदी अरब में मौत, डेथबॉडी वापसी में मदद के लिए आगे आए मुकेश पांडे
  • हथुआ अस्पताल के लिए तेजप्रताप के कामों को भुना रही भाजपा
  • गोपालगंज में सम्मेलन के नाम इस तरहसे अतिपिछडों को ठग रही है जदयू!
  • छपरा में रूह कंपाने वाली हैवानियत, 15 साल की लडकी पर तेजाब फेंक, गला काटा, आंखें निकाली
  • गोपालगंज में एक दलित की प्रताडना के बाद भी कंप्रोमाइज की कहानी अजात शत्रु की जुबानी
  • गोपालगंज के डीएम को भेजा गंदा मैसेज, पूर्व डीएम राहुल कुमार को भी फोन पर दी गई थी गाली!
  • हथुआ अस्पताल में बिना आॅक्सिजन मास्क के ही गंभीर घायल को किया रेफर
  • जयंती पर याद किए गए पूर्व पीएम वीपी सिंह
  • Comments are Closed

    Share
    Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com