गोपालगंज : दियरा संघर्ष समिती एवं दियरवासियो द्वारा अनिश्चीत कालिन धरना


 
गोपालगंज :– जिले के प्रशासनिक उदासिनता के शिकार दियरवासियो का खोज खबर लेने कोई भी आला अधिकारी नही आये इससे दियरवासियो मे काफी आक्रोश है  । अपने क्रोध का प्रदर्शन लोगो ने मुख्य मंत्री नितीश कुमार एवं जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिह (ललन सिह) का पुतला दहन कर किया । कटाव रोधी कार्य मे घोर अनिमियता बरती जा रही है लुट खसोट के कारण ही ग्राम भसही एवं कालामटिहनियां गॉव गंडक नदी के कटाव से नष्ट हो गये । अभियन्ता प्रमुख के निर्देश के वावजुद कटाव रोधी कार्य मे तिब्रता नही है । कल रात संवेदक सोते रहे और नदी कटाव कर बॉध मे आ गयी जिससे नव गॉवा एवं कालामटिहनियां के ग्रामिणो मे भय का माहौल बना हुआ है  । धरना स्थल पर भारी संख्या मे दियरा वासी एकत्रित हुए तथा अपना रोष प्रकट किये  । राजद नेता सह समिती संरक्षक श्री अरूण सिह जी संयोजक श्री अनिल कुमार माझी जी समन्यवक श्री राजेश देहाती जी ,राजबल्म कुश्वाहा जी ,रौशन साह जी ,संदीप ठाकुर जी इत्यादी गंडक दियरा संघर्ष समिती के बहुत सारे सदस्य धरना स्थल पर उपस्थित रहे !

* गंडक बांध बचाने पहुची संवेदकों की टीम :–

जिले के गंडक नदी ने विशुनपुर अहिरौली दान के बीच बनाये जा रहे गाईड लाईन बांध पर कटाव कर रहा गंडक नदी है । इस गंडक नदी के विकराल कटाव को रोकने के लिये विभाग को शिथिलता भारी पड़ रहा है । पिछले तीन दिन मे 100 मीटर से अधिक कराये गये बचाव कार्य गंडक नदी के गोद मे समा गया है । इस बांध को बचाने के लिये तीन दिन पुर्व आश्वासन देकर लौटे जिला जल संसाधन विभाग के अभियंता राजेश कुमार की पहल पर रेवाघाट तथा धनहा से 75 मजदुरो के साथ पहुचे थे । मेटेरियल  की कमी के कारण बचाव कार्य शुरू करने मे थोड़ी  वक्त लग रहा है । जल संसाधन अभियंताओं की टिम कागज पे यहा 24 घंटो काम कर रहे है । फिर भी गंडक का कटाव  रोकने मे विभाग विफल दिख रहा है । जिस दिन यहा से बचाव कार्य शुरू हुआ है उस दिन से पर्याप्त मेटेरियल , पारकोपाइन , नायलन , पत्थर , कैरेट , बोरा आदि समय से उपलब्ध रहता तो बांध को प्रोटेक्ट कर दिया गया होता । गंडक नदी अब यहा के गाव को उजाड़ने पर तुला है । गंडक नदी तेजी से कटाव करते हुए आगे बढ रही है । कटाव के वजह से पुरे गाव के लोगो मे आक्रोश है । सिर्फ कहने के लिए यहा पे तीन कार्यपालक अभियंताओं की टीम तैनात है । फिर भी यहा युद्ध स्तर पर काम नही होने से लोगों की नाराजगी बढती जा रही है । 

* सैकड़ो ग्रामीणो ने संभाला मोर्चा :—

 जिले के कालामटिहनिया मे गंडक नदी ने अपना विकराल रूप धारण कर लिया है । गंडक नदी ने तेजी से बांध को कटाव करते हुए आगे बढते जा रहा था । उसके बाद ग्रामीणों ने कटाव को रोकने के लिये बोरे मे भर कर बालू  
और मिटी बांध को बचाने के लिये मोर्चा संभाला । दियारा संघर्ष समिति के संयोजक अनिल माझी ने बताया कि अगर गाव के लोग मोर्चा नही संभाले होते तो स्थिति आज भयावह होती  ।    






Related News

  • गोपालगंज : नवरात्र के दुसरे दिन भी थावे मंदिर में उमड़ी भक्तों की भीड़
  • गोपालगंज : नवरात्र में फलों व फलाहारी सामानों के बढ़े भाव
  • गोपालगंज : बारिश ने लौटाई धान के पौधे की रंगत
  • नरकटियागंज- गोरखपुर रेलखंड पर तीसरी बार ठप हुआ रेल परिचालन
  • सीवान : अररिया के राजद सांसद तस्लीमुद्दीन के निधन पर राजद विधायक संग कार्यकर्ताओ ने जताया गहरा शोक।
  • गोपालगंज : बारिश नहीं होने से धान की फसल सुखे
  • गोपालगंज : शैक्षणिक संस्थानों पर दलालो का कब्जा
  • गोपालगंज : गंडक नदी के कटाव बेकाबू
  • Comments are Closed